रुद्राक्ष, त्रिपुंड एवं शिव नाम शिव उपासना की त्रिवेणी-संजीव शंकर

0
65

मुजफ्फरनगर। महावीर चौक स्थित महाकाल मंदिर के सानिध्य मे, अर्पण वेंकट हॉल में चल रही शिव पुराण कथा में कथा व्यास महामंडलेश्वर संजीव शंकर जी महाराज ने कहा कि मस्तक पर त्रिपुंड, गले में रुद्राक्ष माला और मुख में शिव नाम शिव उपासना कि त्रिवेणी है, रुद्राक्ष शिवपाल में सर्वाधिक महत्वपूर्ण माना गया है राशि के लग्न के अनुसार रुद्राक्ष धारण किया जाए और भी अधिक फल कारी है अन्यथा सामान्य रूप से पंचमुखी रुद्राक्ष धारण करना सर्वश्रेष्ठ बताया गया है, कथा व्यास ने बताया कि पेड़ पौधों में भी जीवन है इसलिए वनों का संरक्षण करना चाहिए हमारे ऋषि मुनि वैज्ञानिक ही थे जो प्रकृति संरक्षण की बात प्रमुखता से कहते थे तभी उनसे पूजन जोड़े गए जैसे पीपल, बड़, बिल्व, रुद्राक्ष, हार सिंगार, कनेर, शमी,तुलसी, अक्खा ऐसे अनेक पौधों का महत्व बताया गया जो हमारे जीवन में संपन्नता को बढ़ाते हैं और नकारात्मक ऊर्जा का समन करते हैं, पौधों में शिव मंत्र कहते हुए जल देने से रुद्राभिषेक का फल प्राप्त होता है, कथा में पं० अखिलेश मिश्रा, गायक सत्यपाल व योगेश भगत जी ने सुंदर-सुंदर भजन प्रस्तुत किए,आज कथा में मुख्यअतिथि डॉ फलकुमार पंवार जिलाध्यक्ष यूपी जर्नलिस्ट एसोसिएशन ने सर्वप्रथम व्यासपीठ का पूजन व महामंडलेश्वर संजीव शंकर का माल्यार्पण किया कथा में आचार्य प्रवीण देव जी ने भी अपने श्रीमुख से श्रोताओं को सत्संग का महत्व बताया कथा में मुख्य रूप से नगर पालिका अध्यक्ष श्रीमती अंजू अग्रवाल, पूर्व विधायक सोमांश प्रकाश,डॉ०सुभाष चंद्र शर्मा, पूर्व विधायक अशोक कंसल ,पं० उमादत्त शर्मा, राजकीय इंटर कॉलेज के प्रधानाचार्य शैलेंद्र त्यागी,उप प्रधानाचार्य बृजेश कुमार ,होली चाइल्ड पब्लिक स्कूल से प्रवेंद्र दहिया, राजीव गोयल, अखिलेश जिंदल एडवोकेट,अतुल जैन, डॉ० आदेश शर्मा, डा०ऋषभ गुप्ता, सुनील गोयल , चौ०प्रवीण कुमार, श्री बृजेश, श्री संजीव सचदेवा, श्री हरि ओम शर्मा, श्री शिव राना, श्रीमती मनीषा शर्मा, श्रीमती नीरू शर्मा, श्रीमती रीटा दहिया, श्रीमती रिता गोयल, श्रीमती प्रीति खन्ना, श्रीमती अनामिका खन्ना,श्रीमती शांति शर्मा, श्रीमती रजनी राणा, श्रीमती नीरज शर्मा,‌ श्रीमती दीपा महेश्वरी, श्रीमती विनीता शर्मा, श्रीमती रीता शर्मा, कु०अस्मिता शर्मा इत्यादि

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here