गंगा में बह गये शामली के दो चचेरे भाई

0
155

हरिद्वार। चंडीघाट पर गंगाजल भर रहे शामली जिले के दो चचेरे भाई पानी के तेज बहाव में बह गए। घंटों तलाश के बाद एक युवक का शव बरामद हो गया, जबकि दूसरे युवक की गोताखोर तलाश कर रहे हैं। मंगलवार को युवक का शव मोहल्ला बड़ीआल स्थित घर पहुंचा तो परिजनों में कोहराम मच गया। त्योहार के दिन युवक की मौत से क्षेत्र में शोक की लहर दौड़ गई।
शिवरात्रि पर भगवान शिव का जलाभिषेक करने की इच्छा मन में रखकर 23 जुलाई को मोहल्ला बड़ीआल निवासी 30 वर्षीय अनुज पुत्र हरिदास मोहल्ले के ही कुछ युवकों मुकेश सैनी, गौरव, सागर, मोनू व मालेंडी गांव निवासी चचेरे भाई रुद्राक्ष के साथ हरिद्वार गया था। साथियों ने बताया कि सोमवार सुबह अनुज व रुद्राक्ष चंडीघाट से गंगाजल भर रहे थे, तभी पैर फिसलने पर दोनों गंगा की तेज धारा में बह गए। शोरशराबा होने पर मौके पर मौजूद गोताखारों ने गंगा में दोनों की तलाश की तो कुछ समय बाद अनुज को बरामद कर लिया, लेकिन तब तक उसकी मौत हो चुकी थी, काफी प्रयासों के बाद भी रुद्राक्ष का कोई पता नहीं चल पाया था।
वहीं पोस्टमार्टम के बाद मंगलवार सुबह अनुज का शव घर पहुंचा। शव को देखते ही परिजनों का रो-रोकर बुरा हाल हो गया। मौके पर लोगों की भीड़ एकत्रित हो गई। बाद में गमगीन माहौल में युवक का धीमानपुरा स्थित श्मशान में अंतिम संस्कार कर दिया गया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here