गन्ने के भुगतान के लिए दिया आयुक्त को ज्ञापन

0
65

मुजफ्फरनगर । भारतीय किसान यूनियन अराजनैतिक के प्रतिनिधिमण्डल ने उत्तर प्रदेश के गन्ना किसानों के बकाया भुगतान को लेकर प्रमुख सचिव गन्ना व चीनी उद्योग संजय भूसररेड्डी से मिलकर भुगतान की मांग करते हुए कहा कि भुगतान न होने के कारण किसान गन्ना,बिजली विभाग की एकमुश्त समाधान योजना का लाभ नहीं ले पा रहे हैं।
आज भारतीय किसान यूनियन अराजनैतिक के प्रतिनिधिमण्डल ने प्रमुख सचिव गन्ना संजय भूसररेड्डी से मिलकर गन्ना भुगतान की मांग करते हुए कहा कि कुछ चीनी मिलों के समूह व चीनी मिल किसानों का आधा भुगतान भी नही कर पाए है ।जिससे किसानों को परेशानी हो रही है। वहीं दूसरी तरफ प्रदेश में मिलो की क्षमता वृद्धि,नई चीनी मिलों की स्थापना न होने के कारण किसानों को गन्ने का उचित मूल्य नहीं मिल पा रहा है, हालाकि प्रदेश में कई चीनी मिलों की क्षमता वृद्धि की जा चुकी है
प्रदेश में नई चीनी मिलों को लगाए जाने की जरूरत है। जिससे उत्तर प्रदेश की अर्थव्यवस्था को भी बल मिलेगा। गन्ना आयुक्त महोदय ने बिजली के भुगतान से बजाज चीनी मिल के भुगतान कराने व अन्य मिलों पर सख्ती करने का आश्वासन दिया।
प्रदेश में बिजनौर की नजीबाबाद व मुजफ्फरनगर की मोरना मिल की क्षमता वृद्धि के साथ साथ कोजन, डिस्टरली की स्थापना जल्द से जल्द किए जाने का आश्वासन दिया। प्रतिनिधिमण्डल में भारतीय किसान यूनियन अराजनैतिक के धर्मेंद्र मलिक राष्ट्रीय प्रवक्ता,हरिनाम सिंह वर्मा प्रदेश अध्यक्ष,दिगंबर सिंह युवा प्रदेश अध्यक्ष, दीपक तोमर शामिल रहे।

प्रमुख सचिव गन्ना एवं चीनी उद्योग
उत्तर प्रदेश शासन लखनऊ
विषय- उत्तर प्रदेश के गन्ना किसानों का बकाया भुगतान के संबंध में-

मान्यवर
आपके पूर्व से संज्ञान में है कि उत्तर प्रदेश की कुछ चीनी मिलों एवं समूह द्वारा गन्ना किसानों का भुगतान इस वर्ष का भी 50% से कम किया गया है जिससे किसानों को सरकारी योजनाओं में मिलने वाली छूट बच्चों के शादी विवाह एवं बीमारियों तक का इलाज कराना भी संभव नहीं हो पा रहा है
उत्तर प्रदेश के बजाज समूह, मवाना शुगर,सिंभावली शुगर, मोदीनगर, मलकपुर सहित चीनी मिलों में भुगतान की स्थिति दयनीय है ।जिससे किसानों को सरकारी बकाया में डिफाल्टर होना पड़ रहा है। उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा किसान हित में बिजली के बकाया बिलों पर एवं गन्ना सहकारी समितियों में ऋण के भुगतान पर एकमुश्त समाधान योजना लागू की गई है
जिससे किसान का लाभ होगा लेकिन इन चीनी मिलों की भुगतान न करने की आदत के चलते किसान सरकार की इन महत्वकांक्षी योजनाओं का भी लाभ नहीं उठा पा रहे हैं आपसे आग्रह है कि निजी संज्ञान लेकर उत्तर प्रदेश के बकाया गन्ना किसानों का भुगतान कराने का कष्ट करें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here