अग्नि पथ के खिलाफ सुलगी आग, ट्रेन व भाजपा दफ्तर में आग लगाई

0
196

नयी दिल्ली। सेना में भर्ती के लिए सरकार की ओर से घोषित की गई अग्निपथ स्कीम का तीव्र विरोध देश के राज्यों में शुरू हो गया है। मंगलवार को इस स्कीम का ऐलान किया गया था और बुधवार सुबह ही बिहार के कई जिलों में छात्रों ने इसके खिलाफ मोर्चा खोल दिया था। यही नहीं गुरुवार को एक बार फिर से मुंगेर, कैमूर, सहरसा, छपरा समेत कई जिलों में छात्र विरोध के लिए उतरे हैं। नवादा जिले के भाजपा कार्यालय में उपद्रवियों ने तोड़फोड़ की और आग लगा दी। इससे पहले इसी जिले में भाजपा विधायक पर हमला हुआ था। दिल्‍ली- हावड़ा मुख्‍य रेल लाइन के बक्‍सर और आरा स्‍टेशनों पर जमकर तोड़फोड़ हुई है और रेल संपत्ति को नुकसान पहुंचाया गया है। सुबह से लेकर अब तक हुए हंगामे ने रेलवे को भारी नुकसान पहुंचाया है। बिहार के रास्‍ते चलने वाली तमाम ट्रेनें इससे प्रभावित हुई हैं।
कैमूर में छात्रों ने इंटरसिटी एक्सप्रेस को आग के हवाले कर दिया तो कई जगहों पर सड़क जाम कर टायरों में आग लगाकर प्रदर्शन कर रहे हैं। इसके अलावा दिल्ली-जयपुर हाईवे को भी छात्रों ने राजस्थान में जाम कर दिया है। यूपी के बरेली में सेना की तैयारी कर रहे युवाओं ने विरोध प्रदर्शन शुरू किया है। बिहार से शुरू इस आंदोलन की आग देश के अलग-अलग राज्यों में फैल रही है।
बिहार में केंद्र सरकार की अग्निपथ योजना के विरोध में उग्र प्रदर्शन हो रहा है। आर्मी भर्ती के अभ्यर्थियों ने गुरुवार को नवादा में बीजेपी के जिला कार्यालय में तोड़फोड़ कर आगजनी कर दी। कार्यालय की इमारत धूं-धूंकर जल उठी। वारिसलीगंज से बीजेपी विधायक अरुणा देवी के काफिले पर भी हमला किया गया। उग्र युवाओं ने महिला विधायक की गाड़ी पर पथराव कर शीशे तोड़ दिए। ग्वालियर में प्रदर्शनकारियों ने टायर जलाकर यातायात बाधित किया। ग्वालियर में सैकड़ों की संख्या में प्रदर्शनकारियों ने गोला का मंदिर पर चक्काजाम किया और टायरों को आग लगाई। प्रदर्शन कर रहे छात्रों ने केन्द्र सरकार ने अग्निपथ योजना को रद्द करने की मांग की। मौके पर पुलिस और जिला प्रशासन के कई अधिकारी पहुंचे और समझाइश दी। वहीं बिड़ला नगर रेलवे स्टेशन पर प्रदर्शनकारियों ने कुर्सी और अन्य सामान उखाड़ कर पटरियों पर फेंक दिया, जिसके बाद रेल यातायात बाधित हो गया।
अरविंद केजरीवाल ने कहा कि भर्ती में केंद्र सरकार की नई योजना का देश में हर तरफ़ विरोध हो रहा है। युवा बहुत नाराज़ हैं, उनकी मांग एकदम सही है। सेना हमारे देश की शान है, हमारे युवा अपना पूरा जीवन देश को देना चाहते हैं, उनके सपनों को 4 साल में बांधकर मत रखिए। केजरीवाल ने कहा कि केंद्र सरकार से अपील है कि युवाओं को 4 साल नहीं, पूरी ज़िंदगी देश सेवा करने का मौक़ा दिया जाए। पिछले दो साल सेना में भर्तियाँ ना होने की वजह से जिनकी आयु निकल गई है, उन्हें भी मौका दिया जाए।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here