मुजफ्फरनगर में वाहन माफियाओं और अतिक्रमण करने वालों के साथ सख्ती से निपटें जिला प्रशासन : मुख्य सचिव

0
15

मुजफ्फरनगर। मुख्य सचिव उत्तर प्रदेश शासन की अध्यक्षता में सडक सुरक्षा अभियान के सम्बन्ध मे वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से समीक्षा बैठक का आयोजन किया गया ।
मुख्य सचिव दुर्गा शंकर मिश्रा, उत्तर प्रदेश शासन की अध्यक्षता में सड़क सुरक्षा अभियान की समीक्षा हेतु वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से बैठक सम्पन्न हुई। बैठक में सड़क सुरक्षा अभियान के संबंध में मुख्य सचिव ने निर्देश दिए कि सड़क किनारे या इधर-उधर गाड़ी खड़ी करने वालों से सख्ती से निपटा जाए। इसके साथ ही अवैध पार्किंग संचालकों पर विशेष अभियान चलाकर अवैध वाहन स्टैंड हटाये जाएं। सड़क सुरक्षा के लिए आवश्यक है कि हर जिले में अवैध पार्किंग व वाहन स्टैंड खत्म हो। उन्होंने कहा की मुख्यमंत्री के स्पष्ट निर्देश है कि सड़कों पर अतिक्रमण की समस्या को जड़ से समाप्त करना होगा। ऐसे वाहन माफियाओं के साथ सख्ती के निपटें।
अभियान के अंतर्गत पटरी व्यवसायियों के स्थान का चिन्हांकन करते हुए यह सुनिश्चित करें कि कोई तय स्थान के बाहर दुकान न लगाएं एवं किसी भी रेहड़ी पटरी वाले को अनावश्यक रूप से परेशान न किया जाये तथा व्यापारियों से संवाद बनाकर यह सुनिश्चित कराएं की हर दुकान अपनी सीमा के भीतर ही हो। नगरों में पार्किंग की व्यवस्था को और सुदृढ़ करना होगा। स्थानीय प्रशासन की जिम्मेदारी है कि अवैध टैक्सी स्टैंड की समस्या का स्थायी समाधान करे।
मुख्य सचिव ने निर्देश दिए कि स्कूलों के वाहन की नियमित रूप से फिटनेस की जांच की जाये एवं लचर हो चुके वाहन को किसी भी दशा में प्रयोग न किया जाये।
उक्त बैठक में जिलाधिकारी चंद्र भूषण सिंह ने वरिष्ठ पुलिस अध्यक्ष अभिषेक यादव संग प्रतिभाग किया गया। साथ ही अपर जिलाधिकारी प्रशासन नरेन्द्र बहादुर सिंह एवं जिला विद्यालय निरीक्षक गजेन्द्र सिंह, संभागीय परिवहन अधिकारी सुरेंद्र सिंह, बेसिक शिक्षा अधिकारी मायाराम सहित अन्य सम्बन्धित अधिकारी गण उपस्थित रहे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here